Wednesday, February 28, 2024
Homeअपराधखुलासाः नशे में विवाद होने पर दोस्त ने ही की थी पार्थ...

खुलासाः नशे में विवाद होने पर दोस्त ने ही की थी पार्थ की हत्या

नैनीताल: पुलिस ने मुखानी क्षेत्र में हुए पार्थ हत्याकांड का खुलासा करते हुए उसके एक दोस्त को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार नशे की लत के चलते आरोपी ने अपने दोस्त की हत्या कर दी  थी।

मिली जानकारी के अनुसार बीती 8 नवम्बर को राजेन्द्र सिंह सामन्त निवासी बच्ची नगर ने थाना मुखानी में तहरीर देकर बताया था कि 31 अक्टूबर की रात को उनका पुत्र पार्थ राज सिंह सामन्त घर से मोबाइल लेने कह कर अपनी कार से गया थाI 1नवम्बर को सुबह वृन्दावन विहार के पास खाली प्लॉट मे कार के साथ बेसुध अवस्था में मिलाI अस्पताल ले जाने पर चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया । उन्होेने पार्थ ही हत्या में सिद्धार्थ उर्फ सिद्ध निवासी भूमिया विहार कुसुमखेडा थाना मुखानी, मंयक कन्याल निवासी आरके टैन्ट हाउस रोड थाना मुखानी, कमल रावत निवासी धान मिल डहरिया हल्द्वानी के शामिल होने की बात कही।

मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि घटनास्थल पहुचने से पूर्व मृतक पार्थ राज सिंह सामन्त के साथ उसका दोस्त सिद्धार्थ उर्फ सिद्ध उर्फ सैमुअल, मंयक कन्याल व कमल रावत मौजूद थे। जबकि करीब रात्रि 11.15 बजे सिद्धार्थ अपनी मोटरसाइकिल से घर जाते हुये दिखाई दिया। इस बीच पुलिस को यह भी जानकारी मिली कि एक नवम्बर की सुबह करीब 3.15 बजे मृतक पार्थ की कार से पार्थ के अलावा उसका दोस्त मंयक व कमल रावत आते दिखाई दिये और थोडी देर बाद समय करीब 3.22 बजे मयंक कन्याल भी घटना स्थल से अपने घर जाता दिखाई दिया। मृतक पार्थ के साथ अन्तिम समय तक कमल रावत उर्फ भदुवा ही मौजूद रहा। जिस पर पुलिस ने कमल रावत की तलाश शुरू कर दी। जो कि फरार हो गया था जिसे देर रात पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में कमल रावत ने बताया कि वो सभी दोस्त नशे के आदी है। उस रात उन सभी ने काफी मात्रा में नशा किया हुआ था। जिसके बाद सिद्धार्थ व मंयक कल्याल अपने घर चले गये। देर रात जब वह पार्थ के साथ था तो किसी बात पर पार्थ उसे गालियां देने लगा। इस बात से नाराज होकर उसने उसकी गला दबाकर हत्या कर दी और उसके शव को उसकी ही कार में छोड़ दिया और स्वंय घर चला गया। सुबह दोस्तों का फोन आने पर उसने पार्थ के साथ हुयी घटना को छुपाते हुये कहा कि पार्थ ने उसे घर छोड कर चला गया था।

दो तीन दिन बाद उसे पता चला की पार्थ की मौत नशे के ओवर डोज से हुयी है। तो वह निश्चिन्त हो गया पर जब उसे पता चला कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पार्थ की हत्या होना आया है तो वह डर गया और हरिद्वार भागने की फिराक में थाI कमल ने बताया कि वह पहले भी हरिद्वार में रह चुका हैI बताया कि पर उसे पता था पुलिस उसकी तलाश कर रही है। इस लिये वह अलग अलग साधनो मे भाखडा पहुँचा था। बहरहाल पुलिस ने उसे न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments