Sunday, December 4, 2022
HomeHealthव्यस्त जीवनशैली में कैसे पाए कब्ज से निजात

व्यस्त जीवनशैली में कैसे पाए कब्ज से निजात

देहरादून : आजकल की व्यस्त जीवनशैली के चलते लोग फास्टफूड और बाहर की चीजों को खाने के आदि हो गए है I वहीं, कुछ स्वादिष्ट खाने के चक्कर में अक्सर लोग बाहर का खाना खा लेते हैं। लेकिन सेहत के लिए यह नुकसानदायक है। खासतौर से उन लोग के लिए जो हफ्ते में 4-5 दिन लगातार केवल बाहर का अनहेल्दी, ऑयली और स्पाइसी फूड खाते हैं I जिसके कारण उन्हें शारीरिक समस्याएं होने लगती हैं और इन समस्याओं की शुरूआत होती है कब्ज से। आमतौर पर कब्ज होना सामान्य है। जिसके लिए आपकी बिगड़ी हुई जीवनशैली पूरी तरह से जिम्मेदार है।

यह समस्याए पेट में सूजन और गैस्ट्रिक की समस्या पैदा करती है। कब्ज होने पर अक्सर पेट गड़बड़ रहता है और बार-बार मल त्यागने की इच्छा होती है। विशेषज्ञों का मानना है कि यदि कोई व्यक्ति हफ्ते में तीन या तीन से कम बार मल त्याग कर रहा है, तो इसका मतलब है कि वह कब्ज से पीड़ित है। इस समस्या के निवारण के लिए जीवनशैली में बदलाव बेहद जरूरी है। सही और पोष्टिक आहार के साथ आप इस समस्या से मुक्त हो सकते हैं। तो आइए जानते हैं कि कब्ज से राहत पाने के लिए आखिर किन खाद्य पदार्थों को आपको अपने आहार में शामिल करना चाहिए।

कब्ज से निजात पाने का सबसे बेहतर तरीका है सही मात्रा में पानी पिए I यह बाउल मूवमेंट में सुधार करने का एक अच्छा तरीका है। स्वस्थ पाचन तंत्र को पाने के लिए आपको हाइडे्रट रहना बेहद जरूरी है। इसके लिए आपको दिनभर में खूब पानी पीना होगा। शरीर में तरल पदार्थ की कमी अक्सर कब्ज का पहला कारण होता है। इसलिए दिनभर में कम से कम 8-10 गिलास पानी पीने जरूर पीना चाहिए। इससे न केवल आप ऊर्जावान रहेंगे बल्कि बाउल मूवमेंट भी अच्छा बना रहेगा।

कब्ज से राहत के लिए हरी सब्जियों को अपने आहार में शामिल करे I हरी सब्जियां आपके बाउल मूवमेंट को आसान बनाने का सबसे अच्छा तरीका है। पालक, ब्रेसल्स, स्प्राउट्स और ब्रोकली जैसे साग न केवल पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं, बल्कि ये अपनी फाइबर सामग्री के कारण भी जाने जाते हैं। ये आपके पेट के लिए बहुत अच्छे हैं, जिससे बाउल मूवमेंट में दिक्कत नहीं होती। सब्जियों का सेवन करने वाले व्यक्ति को कब्ज से बहुत जल्दी राहत मिल जाती है।

बता दे कि 2017 के एक अध्ययन किया गया जिसमे हेल्‍दी लोगों ने 4 सप्ताह तक रोजाना 20 ग्राम कच्ची ब्रोकली या 20 ग्राम अल्फाल्फा स्प्राउट्स खाया। शोधकर्ताओं ने पाया कि जिन लोगों ने ब्रोकली खाए उनमें कब्ज के लक्षण कम थे और मल त्याग तेज था।

फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थों के अलावा अलसी के बीज आपके पेट के स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद हैं। अलसी में विरेचक गुण (Laxatives) होते हैं। इसके सेवन से मल त्यागने में आसानी होती है। इनके उपयोग से मलाशय की सफाई में आसानी होती है। जिससे बहुत अच्छे परिणाम मिल सकते हैं। पर ध्यान रखें, इन्हें पूरा ना खाएं, वरना इन्हें पचाना मुश्किल हो जाएगा।

इसके अलावा प्रोबायोटिक्स भी कब्ज में फायदेमंद है I प्रोबायोटिक्स एक जीवित बैक्टीरिया हैं, जो स्वभाविक रूप से दही, कोम्बुचा, किमची, और टेम्पेह जैसे खाद्य पदार्थों में पाए जाते हैं। यह पेट की कार्य प्रणाली में सुधार करके डाइजेशन को सही रखते हैं। अध्ययनों में पाया गया है कि प्रोबायोटिक्स गट माइक्रोबायोम को बढ़ाता है, जो इम्यूनिटी में सुधार कर किसी भी प्रकार की सूजन को कम करने और कब्ज की समस्या से निजात दिलाने में मदद करता है I वहीं दालें भी कब्ज से निजात पाने के लिए जरुरी है I बीन्स, दाल, छोले और मटर में बहुत अधिक फाइबर होता है, जो पाचन को बढ़ावा देता है और कब्ज को कम करता है।

दूसरी तरफ फलों की बात करे तो, कीवी, संतरा, नाशपति और सेब जैसे फल पाचन के लिए बहुत अच्छे माने जाते हैं। कब्ज से परेशान रहने वाला कोई भी व्यक्ति इन फलों का सेवन करके राहत महसूस कर सकता है। दरअसल, इन सभी फलों में फाइबर की मात्रा बहुत अच्छी होती है। इसके अलावा इनमें पर्याप्त मात्रा में पानी, सोर्बिटोल और फ्रुक्टोज भी होते हैं, जो कब्ज के इलाज के लिए बहुत उपयोगी हैं।

कब्ज से बचने के लिए आपके दिन की शुरूआत कुछ भी हेल्दी खाने से करेंगे, तो बेहतर होगा। सबसे अच्छा तरीका है नाश्ते में कटोरी भरकर ओटमील खाना। इसमें घुलनशील और अघुलनशील फाइबर से भरपूर है। पहले तो यह पानी में आसानी से घुलकर जेल जैसा रूप ले लेता है जबकि अघुलनशील फाइबर मल में भारी मात्रा में जुड़कर खाद्य पदार्थ को नरम बनाता है और इसे पेट व आंत से गुजरने में आसानी होती है। इस तरह मल त्याग करने के लिए जोर लगाने की जरूरत नहीं पड़ती और कब्ज से छुटकारा मिल जाता है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments