Tuesday, August 9, 2022
HomeHealthउतराखंड में ओमिक्रॉन का पहला मामला आया सामने

उतराखंड में ओमिक्रॉन का पहला मामला आया सामने

देहरादून : भारत के कई राज्यों में कोरोना के नए वेरिंट ओमिक्रॉन के संक्रमितो की संख्या बढती जा रही है । उत्तराखंड में भी ओमिक्रॉन का एक पॉजिटिव केस पाया गया है। स्कॉटलैंड से देहरादून लौटी में 23 वर्षीय युवती के सैंपल की जीनोम सीक्वेंसिंग में ओमिक्रॉन वैरिएंट की पुष्टि हुई है। ओमिक्रॉन की पुष्टि होने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने युवती के माता-पिता का सैंपल भी जांच के लिए भेज दिया है।

बता दे कि देहरादून स्थित कांवली रोड निवासी 23 वर्षीय युवती आठ दिसंबर को स्कॉटलैंड से भारत आई थी। जहाँ इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर युवती की आरटीपीसीआर सैंपल जांच की गई थी। जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई। जिसके बाद युवती अपने माता-पिता के साथ उसी दिन कार से देहरादून पहुंची। 11 दिसंबर को मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय देहरादून की समेकित रोग निगरानी प्रोजेक्ट यूनिट (आईडीएसपी) के आग्रह पर युवती ने एसआरएल लैब के प्रतिनिधि को अपने घर बुलाकर कोविड जांच के लिए सैंपल दिया। वहीं 12 दिसंबर को युवती का कोविड सैंपल पॉजिटिव पाया गया। जिसके बाद युवती को घर में ही 14 दिन के लिए आईसोलेट किया गया था। अब जीनोम सीक्वेंसिंग में युवती में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन की पुष्टि हुई है। जिसकी पुष्टि दिल्ली स्थित आईडीएसपी यूनिट ने भी की है।

स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ.तृप्ति बहुगुणा ने भी देहरादून में प्रदेश का पहला ओमिक्रॉन मामला मिलने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि जिला सर्विलांस इकाई की ओर से युवती की निरंतर निगरानी की जा रही है। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से अपील की है कि ओमिक्रॉन का पहला केस मिलने से घबराएं नहीं। सतर्कता और सावधानी बरतने के साथ कोविड अनुरूप व्यवहार का पालन करें। घर से बाहर निकलने पर मास्क लगाएं। भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचेंI

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments