Sunday, November 27, 2022
Homeराजनीतितो क्या गंगोत्री सीट जीत कर कर्नल कोठियाल करेंगे भाजपा व कांग्रेस...

तो क्या गंगोत्री सीट जीत कर कर्नल कोठियाल करेंगे भाजपा व कांग्रेस को सत्ता से दूर

-आम आदमी पार्टी ने गंगोत्री सीट पर बिछा दी राजनीतिक बिसात

देहरादून: गंगोत्री सीट को लेकर प्रदेश में कहावत प्रचलित है कि, जिस पार्टी का प्रत्याशी इस सीट पर विजयी होता है. उसी पार्टी की राज्य में सरकार बनती है। अब तक यही साबित हुआ। उत्तर प्रदेश के समय से लेकर उत्तराखंड राज्य बनने के बाद यह सही साबित हो रहा है। राज्य में प्रथम बार वर्ष 2002 के विधानसभा चुनाव में गंगोत्री सीट से कांग्रेस जीत दर्ज करने में सफल रही तो प्रदेश में कांग्रेस की नारायण दत्त तिवारी की सरकार बनी। वर्ष 2007 में भाजपा विधायक विजयी रहे तो फिर राज्य में भाजपा की भुवनचन्द्र खण्डूरी के नेतृत्व में सरकार बनी। वर्ष 2012 में काग्रेस के विधायक विजयी हुए तो राज्य में विजय बहुगुणा के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार बनी। और वर्ष 2017 में भाजपा के विधायक विजयी रहा तो प्रदेश में त्रिवेन्द्र के नेतृत्व में भाजपा सरकार बनाने में कामयाब रही। लेकिन इस बार आम आदमी पार्टी के राज्य में मुख्यमंत्री के चेहरे व उत्तराखंड की राजनीति में अहम स्थान रखने वाले कर्नल कोठियाल को गंगोत्री सीट पर चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुकी है। उनके इस ऐलान से यहां का चुनाव काफी दिलचस्प हो गया है। आम लोगों के जहन में यह बात आ रही है कि क्या इस बार कर्नल कोठियाल इस सीट से जीत दर्ज कर नई शुरूआत करेंगे। भाजपा व कांग्रेस को सत्ता से दूर रखकर किसी तीसरे की सरकार बनेगी।

गंगोत्री सीट पर जिस तरह कर्नल कोठियाल का चुनाव प्रचार चल रहा है उससे कांग्रेस व भाजपा फिलहाल दोनो काफी पीछे रह गए हैं। पिछले कुछ महीनों से आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता गांव-गांव में संकर्प साध रहे हैं। आम लोगों के बीच अच्छी मजबूत पकड़ बना चुके हैं। एक रणनीति के तहत ही गंगोत्री सीट को कर्नल अजय कोठियाल ने चुना है। वह सेना के खिलाड़ी तो रहे ही हैं। उसके बाद केदारनाथ में जिस रणनीति से पुर्ननिर्माण कार्यो को अंजाम देकर केदारनाथ यात्रा सुचारू कराई वह उनकी कार्य क्षमता व कुशल नेतृत्व को दर्शाता है। अब वह अपनी इन क्षमताओं को राजनीतिक कौशल में दिखा रहे हैं। गंगोत्री में गांव-गांव स्वयं भी संपर्क साध रहे हैं। भाजपा व कांग्रेस के कुशासन को जनता से बता कर जनता के हित से जुड़े बुनियादी मुद्दे उठा रहे हैं।

कर्नल कोठियाल की टीम पिछले कई महीने से गंगोत्री विधानसभा क्षेत्र में डेरा डाले हुए है। वह स्वयं भी राज्य के साथ गंगोत्री में फोकस किए हुए हैं। उनके समर्थक उनकी जीत का दावा कर इस बार राज्य में भाजपा व कांग्रेस को सत्ता से दूर रखने की बात कह रहे हैं।

कर्नल कोठियाल के चुनाव संचालन का कार्यभार देख रहे मनोज सेमवाल कहते हैं कि गंगोत्री सीट पर कर्नल कोठियाल की जीत सुनिश्चित है। पूरी रणनीति के साथ चुनाव मैदान में है। भाजपा व कांग्रेस ने स्थानीय लोगो से जुड़े मुद्दों को कभी भी ईमानदारी से नहीं उठाया। जनता में दोनो पार्टियों के खिलाफ रोष है। और चुनाव में जनता इसका जवाब दोनो पार्टियों को देगी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments