Friday, August 19, 2022
Homeउत्तराखण्डलखीमपुर खीरी में किसानो की हत्या पर आप ने किया प्रदेश व्यापी...

लखीमपुर खीरी में किसानो की हत्या पर आप ने किया प्रदेश व्यापी प्रदर्शन,घटना की सीबीआई जांच की मांग

-किसानों की हत्यारी है बीजेपी,हक के बदले किसानों की करवाई जा रही है हत्याएं: नवीन निरशाली,आप प्रवक्ता

-आप ने प्रदर्शन कर कहा,दोषियों को सजा,किसानों को मुआवजा और मामले की हो सीबीआई जांच

देहरादून: लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्र के बेटे द्वारा किसानों पर गाडी चढाने से 4 किसानों की दर्दनाक मौत हो गई ,जिससे नाराज किसानों के साथ आप पार्टी ने भी इस घटना की कडी निंदा करते हुए आज प्रदेश के अलग अलग इलाकों में ंबीजेपी के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए पुतला दहन किया । लखीमपुर खीरी में हुई इस घटना के दौरान केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के बेटे ने किसानों के ऊपर गाडी चढा दी जिसमें 4 किसानों की दर्दनाक मौत हो गई जिसके बाद किसान भडक गए। आज अपना विरोध जताते हुए उत्तराखंड में रुद्रपुर ,काशीपुर,बाजपुर,हल्द्वानी में आप कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार का पुतला फूंकते हुए जमकर नारेबाजी की ।

इस दौरान आप पार्टी प्रवक्ता नवीन पिरशाली ने एक बयान जारी किया है। उन्होंने इस घटना को बीजेपी की जनविरोधी और दमनकारी नीतियो ंका परिणाम बताया है। उन्होंने कहा कि किसान तीन कृषि कानूनों के खिलाफ लगभग 1 साल से प्रदर्शन करते हुए इन काले कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहे हैं ,लेकिन इन कानूनों को वापस लेने के बजाए अब केन्द्र सरकार किसानों की हत्याएं करने पर ऊतारु हो चुकी है। उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक तरीके से किसान अपने हक की लडाई लड रहे थे, लेकिन उनपर जानलेवा हमला करवाकर कुछ किसानों की हत्या करवाना बहुत ही निंदनीय है।

उन्होंने आगे कहा कि पहले 26 सितंबर को केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र ने लखीमपुर खीरी में किसानों को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर वो कार से उतर गए तो किसानों को भागने का रास्ता नहीं मिलेगा और उन्हें दो मिनट में ठीक कर देंगे। इससे किसान काफी आक्रोश में थे और बीते दिन उनके पुत्र ने सत्ता के नशे में चूर होकर किसानों पर गाडी चढा दी जिसमें बेकसूर किसानें को अपनी जान गंवानी पडी,जिससे अब किसानों में उबाल है वहीं आप पार्टी भी इस पूरी घडी में किसानो के साथ खडी है।

उन्होंने कहा कि एक ओर केन्द्र सरकार और राज्य सरकारें किसानों के हक की बात करती हैं , लेकिन वहीं उनके मंत्री किसानों को सबक सिखाने की बात करते हुए उनकी हत्याएं करवा रहे हैं। उन्होंने इस घटना की कडे शब्दों में निदां की और दोषियों पर कार्यवाही की मांग करते हुए,पीडित किसानों को मुआवजा देने और इस पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग की है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments