Monday, June 17, 2024
Homeउत्तराखण्डलापता सहायक अभियंता का नही मिला सुराग,परिजनों ने दिया कोतवाली में धरना

लापता सहायक अभियंता का नही मिला सुराग,परिजनों ने दिया कोतवाली में धरना

लापता सहायक अभियंता का नही मिला सुराग,परिजनों ने दिया कोतवाली


उत्तरकाशी। एक सप्ताह पहले डुंडा से लापता हुए अपर सहायक अभियंता को ढूंढने की मांग को लेकर परिजन कलेक्ट्रेट और कोतवाली पहुंचे, जहां उन्होंने धरना-प्रदर्शन करते हुए पुलिस पर जांच में देरी करने का आरोप लगाया। साथ ही चेतावनी दी कि अगर पुलिस द्वारा जल्द ही सहायक अभियंता को नहीं खोजा गया, तो सड़कों पर उतरकर उग्र विरोध किया जाएगा, जिसकी पूरी जिम्मेदारी पुलिस की होगी।
 बीते 12 मई की रात एनएच खंड लोक निर्माण विभाग में कार्यरत अपर सहायक अभियंता अमित चैहान संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गए थे। उसके बाद परिजनों ने ढूंढने की कोशिश की, लेकिन उनका सुराग नहीं लगा। जिससे परिजनों द्वारा कोतवाली उत्तरकाशी में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई। वहीं, जब एक सप्ताह बाद इंजीनियर का कोई सुराग नहीं लगा, तो परिजन उत्तरकाशी कलेक्ट्रेट पहुंचे। इसी बीच एडीएम रजा अब्बास ने परिजनों से कहा कि वह अपना ज्ञापन दे दें। प्रशासन और पुलिस इंजीनियर को ढूंढने की पूरी कोशिश कर रही है।
परिजनों का कहना है कि अमित चैहान देहरादून से एक ठेकेदार के साथ डुंडा आये थे। उसके बाद से उनसे कोई संपर्क नहीं हो पाया। मामले में पुलिस भी जांच में देरी कर रही है, जिससे हम कलेक्ट्रेट परिसर में ही धरने पर बैठ गए हैं, जबकि कुछ लोग नगर कोतवाली में धरने पर बैठे हैं।   कोतवाल अमरजीत सिंह ने बताया कि गुमशुदा इंजीनियर के अपहरण की तहरीर पटेलनगर थाना देहरादून में दर्ज हुई है। यहां पर भी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की गई है। उन्होंने कहा कि पुलिस इंजीनियर को ढूंढने का पूरा प्रयास कर रही है, जल्द ही मामले का खुलासा किया जाएगा।

धरना
उत्तरकाशी। एक सप्ताह पहले डुंडा से लापता हुए अपर सहायक अभियंता को ढूंढने की मांग को लेकर परिजन कलेक्ट्रेट और कोतवाली पहुंचे, जहां उन्होंने धरना-प्रदर्शन करते हुए पुलिस पर जांच में देरी करने का आरोप लगाया। साथ ही चेतावनी दी कि अगर पुलिस द्वारा जल्द ही सहायक अभियंता को नहीं खोजा गया, तो सड़कों पर उतरकर उग्र विरोध किया जाएगा, जिसकी पूरी जिम्मेदारी पुलिस की होगी।
 बीते 12 मई की रात एनएच खंड लोक निर्माण विभाग में कार्यरत अपर सहायक अभियंता अमित चैहान संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गए थे। उसके बाद परिजनों ने ढूंढने की कोशिश की, लेकिन उनका सुराग नहीं लगा। जिससे परिजनों द्वारा कोतवाली उत्तरकाशी में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई। वहीं, जब एक सप्ताह बाद इंजीनियर का कोई सुराग नहीं लगा, तो परिजन उत्तरकाशी कलेक्ट्रेट पहुंचे। इसी बीच एडीएम रजा अब्बास ने परिजनों से कहा कि वह अपना ज्ञापन दे दें। प्रशासन और पुलिस इंजीनियर को ढूंढने की पूरी कोशिश कर रही है।
परिजनों का कहना है कि अमित चैहान देहरादून से एक ठेकेदार के साथ डुंडा आये थे। उसके बाद से उनसे कोई संपर्क नहीं हो पाया। मामले में पुलिस भी जांच में देरी कर रही है, जिससे हम कलेक्ट्रेट परिसर में ही धरने पर बैठ गए हैं, जबकि कुछ लोग नगर कोतवाली में धरने पर बैठे हैं।   कोतवाल अमरजीत सिंह ने बताया कि गुमशुदा इंजीनियर के अपहरण की तहरीर पटेलनगर थाना देहरादून में दर्ज हुई है। यहां पर भी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की गई है। उन्होंने कहा कि पुलिस इंजीनियर को ढूंढने का पूरा प्रयास कर रही है, जल्द ही मामले का खुलासा किया जाएगा।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments