Friday, June 21, 2024
Homeअपराधखुलासाःबहु ने मुह बोले भाई से कराई थी सास की हत्या,आरोपी गिरफ्तार

खुलासाःबहु ने मुह बोले भाई से कराई थी सास की हत्या,आरोपी गिरफ्तार


देहरादून। बुधवार देर रात लालतप्पड़ में सास की हत्या बहू ने ही एक लाख की सुपारी देकर कराई थी। हत्या को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गए थे। पुलिस ने इस मामले में चार लोगों की गिरफ्तारी की है।
 प्रभारी निरीक्षक विनोद गुसाईं ने बताया कि अपनी सास को मौत की नींद सुलाने के लिए मृतका कुलदीप कौर की पुत्रवधू ज्योति मुख्य षड्यंत्रकारी रही। पुलिस के अनुसार, अपने धर्म भाई को वह अपनी व्यथा से अवगत कराती थी। एक दिन उसने सास की हत्या के लिए रकम का ऑफर दिया तो आवेश तत्काल तैयार हो गया। इस काम के लिए उसने दो अन्य लोगों को भी शामिल कर लिया। सुनियोजित तरीके से घटना को अंजाम देकर वह फरार होते परिवार के ही लोगों की नजर उस पर पड़ गई और पुलिस ने महज कुछ घंटों में वारदात का खुलासा किया। लालतप्पड़ में सास की हत्या बहू ने ही एक लाख की सुपारी देकर कराई थी। हत्या को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गए थे। पुलिस ने मामले में चार लोगों की गिरफ्तारी की है। डोईवाला कोतवाली के लालतप्पड़ पुलिस चैकी क्षेत्र में बीते बुधवार की रात तीन लोगों ने कुलदीप कौर पत्नी हरजीत सिंह निवासी लालतप्पड़ की गला दबाकर हत्या कर दी थी।
पुलिस ने घटना को अंजाम देने वाले आवेश अंसारी उर्फ छोटू, सोनू और राहुल निवासी ग्राम बसेड़ी लक्सर हरिद्वार को बीती रात हरिद्वार बस अड्डे से गिरफ्तार कर लिया। प्रभारी निरीक्षक विनोद गुसाईं ने बताया कि आरोपियों ने पूछताछ में कुलदीप कौर की हत्या करना स्वीकार कर लिया है।
पूछताछ में आरोपी आवेश उर्फ छोटू ने बताया कि पिछले छह-सात माह से वह कुलदीप कौर के पुत्र जगदेव सिंह के घर में ही रह रहा है। उसने जगदेव की पत्नी ज्योति उर्फ डिंपी को अपनी धर्म बहन बनाया था। बताया कि मृतका कुलदीप कौर पुत्रवधू डिंपी को लगातार प्रताड़ित करती थी। कुलदीप कौर उसे भी परेशान करती थी।
पूछताछ में आरोपी आवेश उर्फ छोटू ने बताया कि पिछले छह-सात माह से वह कुलदीप कौर के पुत्र जगदेव सिंह के घर में ही रह रहा है। उसने जगदेव की पत्नी ज्योति उर्फ डिंपी को अपनी धर्म बहन बनाया था। बताया कि मृतका कुलदीप कौर पुत्रवधू डिंपी को लगातार प्रताड़ित करती थी। कुलदीप कौर उसे भी परेशान करती थी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments